Welcome to ArcadeLamor. Here you can find your Bhargav Adarsh Hindi Shabdkosh that you have been looking for so long, and yes, for free.

Bhargav Adarsh Hindi Shabdkosh
Bhargav Adarsh Hindi Shabdkosh PDF
No. Of Pages: 949
PDF Size: 85.7 MB
Language: Hindi
Category: eBooks & Novels
Author: Pandit Ramchand Pathak

भार्गव आदर्श हिंदी शब्दकोश | Bhargav Adarsh Hindi Shabdkosh

हिन्दी के राष्ट्रभाषा के रूप में स्वीकृत होने के पश्चात् से साहित्य, कला, विज्ञान एवं तकनीकी विषयों पर पाठ्य-पुस्तकों और संदर्भ-ग्रंथों की रचना तीव्रगति से हो रही है।

इस नये वातावरण के अनुकूल हिन्दी में भी सभी सजीव भाषाओं की तरह हजारों नये शब्दों का निर्माण हुआ है और प्रतिदिन नये शब्द प्रकाश में आते जा रहे हैं ।

इस परिस्थिति में कोई भी कोश यदि उसमें इन नये शब्दों का समावेश यथासमय . नहीं हो जाता तो, अपना उपयोग खो देगा । अतः प्रत्येक कोशकार

और प्रकाशक को इस दिशा में जागरूक रहना अनिवार्य है जिससे पाठकों को एक से अधिक कोशं की सहायता लेने पर विवश न होना पड़े। यदि ऐसी असुविधा का अंत किया जा सके तो कोई भी कोश अपना मूल्य बनाये रखेगा।

इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए हम अपने कोश का नया संशोधित एवं संर्वाधित संस्करण पाठकों के सम्मुख उपस्थित करते हुए प्रसन्नता का अनुभव करते हैं।

हमने प्रयास किया है कि भाषा की विभिन्न नयी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए सरकार तथा अन्य संस्थाओं एवं विशिष्ट विद्वानों द्वारा जो नये शब्द निर्मित तथा संकलित किये गये हैं,

वे प्रायः सभी प्रस्तुत संस्करण में ले लिये जायँ । इसके फलस्वरूप लगभग सवा सौ पृष्ठ ( १५ फर्मे ) पहले की अपेक्षा बढ़ गये हैं। आशा है, प्रस्तुत संस्करण पाठकों की आज की आवश्यकता पूरी कर सकने में समर्थ होगा।

दो के राष्ट्रा के में ोहत होमे के पश्चात् रे साहित्य, कला, मिताल एवं तकनीकी विषयों पर पास युवकों और संदर्भनयों की रचना जीचति से हो रही है।

इस को कारण के अनुकूल हिन्दी में भी सभी सीप भाषाओं की उरह हनारों गये शब्दों का नियाध हुमा है और प्रतिदिन की शब्द प्रसार में आते जा इस परिस्थिति में कोई भी कोण कदि उसमें इन नये पान्दों का समावेश ययासमय हो हे माया तो, मला पोर पो देगा।

Similar Free PDF’S